होमLATEST NEWSआरबीआई  गवर्नर, बैन हो सकती है क्रिप्टो, कहा  क्रिप्टो करेंसी जुए के...

आरबीआई  गवर्नर, बैन हो सकती है क्रिप्टो, कहा  क्रिप्टो करेंसी जुए के अलावा कुछ नहीं है।

-

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने एक बार फिर से शुक्रवार को क्रिप्टो करेंसी पर पूरी तरह से अपना रुख साफ करते हुए कहा। “क्रिप्टो करेंसी जुए के अलावा कुछ नहीं है।  और इसका कथित वैल्यू कुछ भी नहीं बल्कि झूठा विश्वास या छलावा है” । शक्तिकान्त दास ने एक मीडिया कार्यक्रम मे संबोधित करते हुए क्रिप्टो पर प्रतिबंध लगाने का आह्वान करते हुए कहा “इसका समर्थन करने वाले इसे संपत्ति या वित्तीय उत्पाद कहते हैं, लेकिन इसमें कोई अंतर्निहित मूल्य नहीं है।

यह  सिर्फ छलावा है। हाल ही में  केंद्रीय बैंक ने देश मे  अपनी (देश की करेंसी) डिजिटल करेंसी यानी ई रुपए का पायलट प्रोजेक्ट पेश किया है। यह एक डिजिटल मुद्रा है। जो रुपए की तरह ही लीगल है और इसे धीरे-धीरे पूरे देश में लागू किए जाने की योजना है।

क्रिप्टो करेंसी पर पूर्ण प्रतिबंध होनी चाहिए.

image credite twitter, bitcoin image

इसे भी पढ़ें:-

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने शुक्रवार को बिजनेसटुडे के प्रोग्राम में क्रिप्टो पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने की अपनी मांग को फिर से दोहराते हुए कहा। कि किसी भी ऐसे या फाइनेंशियलप्रोडक्ट के सपोर्ट के लिए उसका एक अंतर्निहित मूल्य होता है। लेकिन क्रिप्टो में कोई अंतर्निहित मूल्य नहीं है। और यहां तक कि एक ट्यूलिप भी नहीं है। दरअसल पिछली शताब्दी की शुरुआत में ट्यूलिप के फूल की मांग बहुत बढ़ गई थी। और इसकी कीमत आसमान पर पहुंच गई। लोग किसी भी कीमत पर ट्यूलिप पाना चाहते थे।

उन्होंने आगे कहा कि क्रिप्टो केमार्केट प्राइस में बढ़त सिर्फ छलावाया कह सकते हैं। कि एक झूठा विश्वास है।  साफ तौर पर कहे तो क्रिप्टो सिर्फ जुआ है। शक्तिकांत दास ने अपनी बात पर जोर देते हुए आगे कहा। कि हमारे देश में जुए के लिए अनुमति नहीं है।  अगर आप इस जुए की अनुमति देना चाहते हैं। तो इसे जुआ ही माने और जुए के नियम निर्धारित करें। लेकिन क्रिप्टो एक फाइनेंशियलप्रोडक्ट नहीं है। इसे किसी भी प्रकार से कंट्रोल नहीं कर सकते है।

क्रिप्टो करेंसी कोई नियामक नहीं है

image credite twitter, bitcoin image

हालांकि आपको बात दे की क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल या वर्चुअल करेंसी है। यह ब्लॉक चैन तकनीक से क्रिप्टोग्राफी के जरिए सुरक्षा दी जाती है। क्रिप्टो करेंसी को आप ऑनलाइन लेनदेन मे ही  उपयोग कर सकते है। इसमें किसी भी सरकार या थर्ड पार्टी का कोई कंट्रोल नहीं होता है। साफ साफ कहे तो क्रिप्टो करेंसी पर किसी देश की सरकार या बैंक का कोई नियंत्रण नहीं होता है।

और ना ही कोई अथॉरिटी क्रिप्टो करेंसी की कीमत तय कर सकती है। आज क्रिप्टो करेंसी की कई वर्जन दुनिया में मौजूद है।  Bitcoin, Ethereum,Dogecoin  और Shibainu और कुछ जानी मानी क्रिप्टो करेंसी है।

इसे भी पढ़ें:- क्रिप्टोकरेंसी रिकवरी शुरू, हो रहा है निवेशकों का पैसा वापस।

इसे भी पढ़ें:- आज Ethereum coin के निवेशक हुए मालामाल, आज Ethereum मे 11 फीसदी की बढ़त।

SUDHIR KUMARhttp://CRYPTOINVESTIPS.COM
Hey, I am Sudhir Kumar the author of this blog. I enjoy doing research about cryptocurrencies and the stock market. The purpose of this blog is to share my research with you guys in the Hindi language.

LATEST POSTS

उरुग्वे के सेंट्रल बैंक ने Ripple को मनी ट्रांसफर कंपनी घोषित किया है जो इसे विशेष अधिकार प्रदान करती है।

बैंको सेंट्रल डेल उरुग्वे ने रिपल पार्टनर को मनी ट्रांसफर कंपनी बनने और रिपलनेट सेवाओं का उपयोग करने का लाइसेंस दिया।  केंद्रीय बैंक के इस कदम...

शेयर होल्डर के लिए खुशखबरी, अब शेयर बाजार मे निवेशकों के पैसे का रुकेगा दुरुपयोग

शेयर होल्डर का कारोबार के लिए फंड होगा सुरक्षित SEBI ने दिया फंड को ब्लॉक करने की सुविधा का प्रपोजल निवेशकों के पैसे का शेयर ब्रोकरों के...

Midcap Stocks के तीन शेयर मे होगी तगड़ी कमाई! एक्सपर्ट्स से जानें कौन से स्टॉक दे सकते हैं बढ़िया रिटर्न.

Midcap Stocks- शेयर  मार्केट समंदर है इससे आप जितना चाहे उतना पैसा निकाल सकते है। वस कुछ रणनीति और एक्सपर्ट्स के द्वारा दी जाने वाली...

Shiba Inu की बढ़ती लोकप्रियता, क्या उसके प्रतिद्वंद्वी dogecoin को पीछे छोड़ पायेगा , देखे विशेषज्ञ की रिपोर्ट।

Shiba Inu ने एक हफ्ते में 20% से अधिक की तेजी के साथ खूब सुर्खियां बटोरीं। Dogecoin भी पीछे नहीं है इसने  भी एक हफ्ते में...

Most Popular